गाजा में हमास के शीर्ष नेता के घर पर कहर बनकर गरजी इजराइली सेना

इजरायल का ध्वज। फोटो स्रोत: PixaBay
इजरायल का ध्वज। फोटो स्रोत: PixaBay

यरुशलम/एपी। इजराइली सेना ने रविवार को कहा कि उसने गाजा में हमास के एक शीर्ष नेता के घर पर हमला किया है। गाजा से इजराइल में हवाई हमले और रॉकेट दागे जाने के करीब एक हफ्ते बाद यह हमला किया गया। सेना के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल हिदाई जिल्बरमैन ने रविवार को इजराइली सेना के रेडियो को बताया कि सेना ने गाजा में हमास के सबसे वरिष्ठ नेता येहियेह सिनवार के घर को निशाना बनाया है जो समूह के बाकी शीर्ष नेताओं के साथ संभवत: वहां छिपा था।

उसका मकान दक्षिण गाजा पट्टी में खान युनूस शहर में स्थित है। सेना ने बताया कि उसने सिनवार के भाई के घर पर भी हमला किया है। हमास और इस्लामिक जिहाद समूह ने सोमवार को यह संघर्ष शुरू होने के बाद से 20 लड़ाकों के मारे जाने की बात कही है जबकि इजराइल ने कहा कि असल संख्या इससे कहीं अधिक है। हमास और अन्य उग्रवादी समूहों ने सोमवार से लेकर अब तक इजराइल में करीब 2,000 रॉकेट दागे हैं।

पूर्वी यरुशलम में इस महीने की शुरुआत में तनाव तब शुरू हुआ जब फलस्तीनियों ने शेख जर्रा में उन्हें निकाले जाने के खिलाफ प्रदर्शन किया और इजराइली पुलिस ने अल-अक्सा मस्जिद में कार्रवाई की। इजइराल ने गाजा में सैकड़ों हवाई हमले किए और कई बहुमंजिला इमारतों को निशाना बनाया जिसमें वह इमारत भी शामिल हैं जहां ‘द असोसिएटेड प्रेस’ का कार्यालय था।

इस संघर्ष में गाजा में कम से कम 145 फलस्तीनी मारे गए जिनमें 41 बच्चे और 23 महिलाएं शामिल हैं। इजराइल में आठ लोगों की मौत हो गई जिनमें पांच साल का बच्चा शामिल हैं। इजराइल के युद्धक विमानों ने रविवार तड़के गाजा सिटी के अहम हिस्से में कई इमारतों और सड़कों को निशाना बनाया। निवासियों और पत्रकारों द्वारा जारी तस्वीरों के अनुसार, हवाई हमलों से गड्ढा बन गया जिससे शिफा अस्पताल की ओर जाने वाली एक मुख्य सड़क अवरुद्ध हो गई। शिफा गाजा पट्टी में सबसे बड़ा अस्पताल है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि ताजा हवाई हमलों में कम से कम दो लोगों की मौत हो गई और 25 घायल हो गए, जिनमें बच्चे और महिलाएं शामिल हैं। इजराइल ने शनिवार को हमास की राजनीतिक शाखा के प्रमुख नेता खलील अल-हायेह के घर पर बम गिराए। अभी अल-हायेह के मारे जाने या किसी अन्य के मारे जाने की कोई खबर नहीं मिली है।