संसद में भाषण देते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान
संसद में भाषण देते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान

इस्लामाबाद/दक्षिण भारत। यूं तो पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान खूंखार आतंकवादियों के लिए जन्नत है और वह उन्हें पालता-पोसता रहता है, लेकिन उसके प्रधानमंत्री और फौजी नेतृत्व इस बात से हमेशा इनकार ही करते रहते हैं। अब इमरान खान ने अपने मुल्क की संसद में भाषण देते हुए अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को ‘शहीद’ बताया है।

अलकायदा सरगना रहा ओसामा मई 2011 में अमेरिकी सेना के एक विशेष अभियान में पाकिस्तान के एबटाबाद में मारा गया था। पाकिस्तान समेत दुनियाभर के आतंकवादी ओसामा को अपना हीरो मानते रहे हैं, लेकिन अब इमरान ने भी उक्त आतंकवादी के लिए ‘शहीद’ शब्द का इस्तेमाल किया है।

अमेरिका में 9/11 हमले को अंजाम देकर करीब तीन हजार लोगों को मौत के घाट उतार देने वाले आतंकी ओसामा का जिक्र करते हुए इमरान कहते हैं, ‘.. मैं कभी नहीं भूलता पाकिस्तानियों को शर्मिंदा करने वाली दो घटनाएं हैं … एक हुआ ओसामा बिन लादेन को अमेरिकन्स ने एबटाबाद में आकर मार दिया … शहीद कर दिया।’

इमरान कहते हैं, ‘उसके बाद क्या हुआ? सारी दुनिया ने हमें गालियां निकालीं। हमें बुरा-भला कहा यानी हमारा सहयोगी, हमारे ही मुल्क में आकर किसी को मार ​रहा है और हमें ही नहीं बता रहा! और 70 हजार पाकिस्तानी मर चुके हैं उनकी जंग के लिए। इससे ज्यादा जिल्लत … जिधर पाकिस्तानी बाहर थे, आप देखें जो उन पर गुजरी …।’

बता दें कि इमरान के इस भाषण के बाद ओसामा का नाम ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा और दुनियाभर के कई यूजर्स ने उनकी खिंचाई की। बड़ी संख्या में लोगों ने यह भी कहा कि उन्हें इमरान की उक्त टिप्पणी पर कोई आश्चर्य नहीं है, क्योंकि पाकिस्तान आतंकवाद की अंतरराष्ट्रीय राजधानी है, जहां इस समय भी बड़ी तादाद में आतंकवादी मौजूद हैं।