ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन
ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन

लंदन/भाषा। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए इंग्लैंड में चार सप्ताह के ‘स्टे-एट-होम (घरों में रहने)’ लॉकडाउन की घोषणा की। यह लॉकडाउन कम से कम दिसंबर के पहले सप्ताह तक लागू रहेगा।

शनिवार को 10 डाउनिंग स्ट्रीट से संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ‘प्रकृति के सामने विनम्र’ होने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है और अगर अब कड़े कदम नहीं उठाए गए तो देश में संक्रमण से मृत्यु दर पहली लहर से भी ज्यादा हो सकती है।

जॉनसन ने कहा, ‘कोई विकल्प नहीं है इसलिए अब कड़े कदम उठाने का समय है।’ उन्होंने कहा, ‘आपको घर में ही रहना चाहिए, आप सिर्फ शिक्षा के लिए घर से बाहर निकलें, अगर घर से काम नहीं कर सकते हैं तभी काम के लिए बाहर निकलें। अपने घर के ही किसी व्यक्ति के साथ व्यायाम करें या किसी अन्य घर के व्यक्ति के साथ। किसी भी तरह से खुद को नुकसान या चोट नहीं पहुंचाएं। स्वयं की इच्छा से किसी के लिए खाद्य पदार्थ या जरूरी समान खरीद दें या जरूरतमंद को सेवा दें।’

उन्होंने कहा कि यह लॉकडाउन पहले लगाए गए लॉकडाउन की अपेक्षा कम ‘पाबंदियों’ वाला होगा। इस दौरान गैर आवश्यक सेवाओं और मनोरंजन या आतिथ्य सेवा वाले स्थल जैसे कि रेस्तरां, बार और पब बंद रहेंगे।

रेस्तरां से खाना पैक करा कर ले जाने की अनुमति होगी और लोग अपने घर के बाहर सिर्फ एक व्यक्ति से मिल सकेंगे। इस दौरान स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय खुले रहेंगे। हालांकि जॉनसन ने इशारा किया है कि क्रिसमस तक पाबंदियों में छूट दी जाएगी कि लोग अपने परिवारों से मिल सकें।