हम शांति, प्रगति और सुरक्षा के क्षेत्र में मजबूत और विश्वस्त साझेदार होंगेः बाइडन

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन। फोटो स्रोतः ट्विटर अकाउंट।
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन। फोटो स्रोतः ट्विटर अकाउंट।

वाॅशिंगटन/भाषा। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार को पद की शपथ लेने के बाद अमेरिका के साझेदारों के साथ संबंधों को दुरुस्त करने और दुनिया के साथ एक बार फिर साझेदारी बढ़ाने का वादा किया।

देश के 46वें राष्ट्रपति के रूप में अपने पहले भाषण में उन्होंने कहा कि देश ने परीक्षा की घड़ी पार की है और मजबूत बनकर उभरा है।

डेमोक्रेटिक पार्टी के 78 वर्षीय अनुभवी नेता ने अपने भाषण में कहा, ‘हम शांति, प्रगति और सुरक्षा के क्षेत्र में मजबूत और विश्वस्त साझेदार होंगे।’

उन्होंने कहा, ‘देखिए, मेरे सभी सहकर्मियों और मैंने पहले भी व्हाइट हाउस और सीनेट में काम किया है, हम सभी समझते हैं कि दुनिया की नजर हम पर है, आज सभी हमें देख रहे हैं, ऐसे में हमारी सीमा से बाहर (अंतरराष्ट्रीय समुदाय) वालों के लिए संदेश है।’

उन्होंने कहा, ‘अमेरिका ने परीक्षा दी है और मजबूत होकर उभरा है। हम अपने साझेदारों के साथ संबंधों को दुरुस्त करेंगे और एक बार फिर दुनिया के साथ अपनी साझेदारी बढ़ाएंगे, पुरानी चुनौतियों से निपटने के लिए नहीं बल्कि वर्तमान और भविष्य में आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए।’

बाइडन ने कहा, ‘हम सिर्फ अपनी शक्ति के आधार पर नेतृत्व नहीं करेंगे, बल्कि उदाहरण पेश करेंगे और उसके आधार पर आगे चलेंगे। हम शांति, प्रगति और सुरक्षा के लिए मजबूत तथा विश्वस्त साझेदार साबित होंगे।’

उन्होंने देशवासियों से कहा कि सभी के लिए यह परीक्षा की घड़ी है। उन्होंने कहा, ‘हम अपने लोकतंत्र और सच्चाई पर हमला होता देख रहे हैं। अब हमारी परीक्षा होने वाली है। क्या हम सभी मजबूती से खड़े होंगे? यह साहस दिखाने का समय है, बहुत कुछ करना है। यह सच्चाई है। मैं आपसे वादा करता हूं, लोग हमें जज करेंगे, देखेंगे कि आप और मैं मिलकर कैसे चुनौतियों का सामना करते हैं।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित दुनिया के तमाम नेताओं ने ट्वीट करके अमेरिका के नये प्रशासन को बधाई दी है और साथ मिलकर काम करने की आशा जताई है।

मोदी ने कहा, ‘अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में पदभार संभालने पर जो बाइडन को मेरी शुभकामनाएं। मैं उनके साथ मिलकर काम करने और भारत-अमेरिका साझेदारी को मजबूत करने के लिए आशान्वित हूं।’

इस बीच राष्ट्रपति बाइडन ने अनुभवी राजनयिक डैनियल स्मिथ को अपनी सरकार में कार्यवाहक विदेश मंत्री पद के लिए चुना है। बाइडन एंथनी ब्लिंकन को विदेशी मंत्री का पद सौपना चाहते हैं और उन्हें इसके लिए सीनेट से मंजूरी का इंतजार है।