logo
मन की बातः आज़ादी के 75 साल से लेकर परीक्षा परिणाम तक क्या बोले मोदी?
आजादी के अमृत महोत्सव के तहत, 13 से 15 अगस्त तक, एक स्पेशल मूवमेंट ‘हर घर तिरंगा’ का आयोजन किया जा रहा है
 
'13 से 15 अगस्त तक अपने घर पर तिरंगा जरूर फहराएं या उसे अपने घर पर लगाएं'

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को ‘मन की बात’ कार्यक्रम में देशवासियों को संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस बार ‘मन की बात’ बहुत खास है। इसका कारण है, इस बार का स्वतंत्रता दिवस, जब भारत अपनी आज़ादी के 75 वर्ष पूरे करेगा। हम सभी बहुत अद्भुत और ऐतिहासिक पल के गवाह बनने जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 31 जुलाई यानी आज ही के दिन, हम सभी देशवासी, शहीद उधम सिंहजी की शहादत को नमन करते हैं। मैं ऐसे अन्य सभी महान क्रांतिकारियों को अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं जिन्होंने देश के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मुझे ये देखकर बहुत ख़ुशी होती है कि आजादी का अमृत महोत्सव एक जन आंदोलन का रूप ले रहा है। सभी क्षेत्रों और समाज के हर वर्ग के लोग इससे जुड़े अलग-अलग कार्यक्रमों में हिस्सा ले रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत, 13 से 15 अगस्त तक, एक स्पेशल मूवमेंट ‘हर घर तिरंगा’ का आयोजन किया जा रहा है। इसका हिस्सा बनकर 13 से 15 अगस्त तक, आप, अपने घर पर तिरंगा जरूर फहराएं, या उसे अपने घर पर लगाएं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2 अगस्त से 15 अगस्त तक, हम सभी, अपनी सोशल मीडिया प्रोफाइल पिक्चर्स में तिरंगा लगा सकते हैं। 2 अगस्त को पिंगली वेंकैयाजी की जन्म-जयंती ह,ै जिन्होंने हमारे राष्ट्रीय ध्वज को डिजाइन किया था। मैं उन्हें आदरपूर्वक श्रद्दांजलि अर्पित करता हूं। कोरोना के खिलाफ आयुष ने वैश्विक स्तर पर अहम भूमिका निभाई है। दुनिया में आयुर्वेद और भारतीय औषधियों के प्रति आकर्षण बढ़ रहा है। हाल में एक ग्लोबल आयुष इन्वेस्टमेंट और इनोवेशन समिट हुई थी। इसमें करीब 10 हजार करोड़ रुपए के इन्वेस्टमेंट प्रपोजल्स मिले हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जुलाई में इंडियन हर्बेरियम को लॉन्च किया गया। यह इस बात का भी उदाहरण है कि कैसे हम डिजिटल वर्ल्ड का इस्तेमाल अपनी जड़ों से जुड़ने में कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि शहद की मिठास हमारे किसानों का जीवन भी बदल रही है, उनकी आय भी बढ़ा रही है। शहद न केवल हमें स्वाद देता है, बल्कि आरोग्य भी देता है। शहद उत्पादन में आज इतनी अधिक संभावनाएं हैं कि प्रोफेशनल पढ़ाई करने वाले युवा भी इसे स्वरोजगार बना रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश में मेलों का भी बड़ा सांस्कृतिक महत्व रहा है। मेले जन-मन दोनों को जोड़ते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे युवा, स्टार्टअप्स और उद्यमियों के बूते हमारी टॉय इंडस्ट्री ने जो कर दिखाया है, जो सफलताएं हासिल की हैं, उसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। आज जब भारतीय खिलौनों की बात होती है, तो हर तरफ वोकल फॉर लोकल की ही गूंज सुनाई दे रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हमारे युवा हर क्षेत्र में देश को गौरवान्वित कर रहे हैं। इसी महीने पीवी सिंधु ने सिंगापुर ओपन का अपना पहला खिताब जीता है। नीरज चोपड़ा ने भी अपने बेहतरीन प्रदर्शन को जारी रखते हुए विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में देश के लिए रजत पदक जीता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि चेन्नई में 44वें चेस ओलंपियाड की मेजबानी करना भी भारत के लिए बड़े ही सम्मान की बात है। 28 जुलाई को ही इस टूर्नामेंट का शुभारंभ हुआ है और मुझे इसकी ओपनिंग सेरेमनी में शामिल होने का सौभाग्य मिला।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ दिन पहले ही देशभर में 10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम भी घोषित हुए हैं। मैं उन सभी विद्यार्थियों को बधाई देता हूं, जिन्होंने अपने कठिन परिश्रम और लगन से सफलता अर्जित की है।

<