logo
अमेरिका के इस हिंदू सांसद को 'दुश्मन' के तौर पर देखती है पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई?
कृष्णमूर्ति ने कहा कि पाकिस्तान में मौजूद कट्टरपंथियों के खिलाफ उनके रुख के लिए आईएसआई उन्हें एक दुश्मन के रूप में देखती है
 
उन्होंने जोर देकर कहा कि वह भी सभी धर्मों का सम्मान करते हैं और कभी किसी रंग, नस्ल या धर्म के खिलाफ भेदभाव नहीं किया

वॉशिंगटन/भाषा। भारतीय-अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने कहा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई दक्षिण एशियाई देश में मौजूद कट्टरपंथियों के खिलाफ उनके रुख के चलते उन्हें एक ‘दुश्मन’ के रूप में देखती है।

इलिनॉय से डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद कृष्णमूर्ति ने बोस्टन में अमेरिका भारत सुरक्षा परिषद (यूएसआईएससी) के अध्यक्ष एवं प्रख्यात भारतीय-अमेरिकी नागरिक आरवी कपूर के आवास पर आयोजित चंदा जुटाने (फंडरेजर) के कार्यक्रम में समुदाय के सदस्यों को संबोधित करते हुए यह टिप्पणी की।

यूएसआईएससी की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, उन्होंने (कृष्णमूर्ति ने) कहा कि पाकिस्तान में मौजूद कट्टरपंथियों के खिलाफ उनके रुख के लिए आईएसआई उन्हें एक दुश्मन के रूप में देखती है। उन्होंने जोर देकर कहा कि वह भी सभी धर्मों का सम्मान करते हैं और कभी किसी रंग, नस्ल या धर्म के खिलाफ भेदभाव नहीं किया।

विज्ञप्ति के अनुसार, कृष्णमूर्ति ने भारतीय-अमेरिकी समुदाय को भरोसा दिलाया कि चुनाव जीतने पर वह भारत और अमेरिका के बीच मौजूद रणनीतिक सहयोग को समर्थन देना जारी रखेंगे, ताकि यह दोस्ती प्रशांत क्षेत्र में चीन की महत्वाकांक्षाओं पर लगाम लगा सके।

कार्यक्रम में भारतीय-अमेरिकी समुदाय की कई मशहूर हस्तियों ने शिरकत की, जिनमें विक्रम राज्यदक्ष, दिनेश पटेल, अभिषेक सिंह, अमर साहनी, दीपिका साहनी और डॉ. राज रैना शामिल हैं।

यूएसआईएससी ने कहा कि चंदा कार्यक्रम का आयोजन नवंबर में होने वाले मध्यावधि चुनाव के मद्देनजर कृष्णमूर्ति के वास्ते धनराशि जुटाने के लिए किया गया था। संस्था ने कहा कि इस कार्यक्रम का मकसद भारतीय-अमेरिकी समुदाय के हितों से जुड़े मुद्दे उठाने के निरंतर प्रयासों को लेकर कृष्णमूर्ति के प्रति समुदाय का समर्थन भी दर्शाना था।

<