logo
सेना की गोली से बचने के बाद इस वजह से मारा गया लश्कर का खूंखार आतंकवादी
तबारक हुसैन पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) के कोटली के सब्जकोट गांव का निवासी था
 
वह  21 अगस्त को घुसपैठ की कोशिश के दौरान पकड़ा गया था

जम्मू/दक्षिण भारत। करीब एक पखवाड़े पहले एलओसी पर घुसपैठ के दौरान भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा गिरफ्तार किए गए पाकिस्तानी आतंकवादी की मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार, उसे दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उसने जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में स्थित सैन्य अस्पताल में दम तोड़ दिया।

गौरतलब है कि तबारक हुसैन (32) पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) के कोटली के सब्जकोट गांव का निवासी था। वह  21 अगस्त को घुसपैठ की कोशिश के दौरान पकड़ा गया था।

उसने छह साल में दूसरी बार घुसपैठ की कोशिश की थी। वह लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) का प्रशिक्षित आतंकवादी था।

तबारक हुसैन पाकिस्तानी फौज के इशारे पर आतंकवाद फैलाता था। उसे भारत जाकर आतंकवादी घटना को अंजाम देने का हुक्म मिला था। जब वह घुसपैठ कर रहा था, भारतीय सैनिकों ने गोली मारकर घायल कर दिया।

उसे सेना के अस्पताल में लाया गया, सर्जरी की गई। यही नहीं, भारतीय सैनिकों ने इस आतंकवादी की जान बचाने के लिए तीन यूनिट खून भी दिया।

शनिवार शाम उसे दिल का दौरा पड़ा और उसकी मौत हो गई।

<