logo
तेलंगाना भाजपा अध्यक्ष की गिरफ्तारी लोकतंत्र की हत्या : नड्डा
कोविड-19 गाइड लाइन का उल्लंघन करने के आरोप में बी. संजय कुमार को करीमनगर में लिया था हिरासत में
 
भाजपा ने तेलंगाना सरकार के इस कुत्सित प्रयास की निंदा की

नई दिल्ली/दक्षिण्ा भारत/ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे पी नड्डा ने पार्टी की तेलंगाना इकाई के प्रमुख बी. संजय कुमार को हिरासत में लिए जाने की कड़ी निंदा करते हुए सोमवार को इसे लोकतंत्र की हत्या करार दिया। उन्होंने एक बयान में आरोप लगाया कि तेलंगाना की सत्ताधारी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की सरकार के दबाव में पुलिस ने अमानवीय तरीके से बी. संजय कुमार के कार्यालय में घुस कर मारपीट की, पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं पर अंधाधुंध लाठीचार्ज किया और अकारण उन्हें गिरफ्तार किया।
नड्डा ने कहा कि यह अत्यंत दुखद एवं निंदनीय है। यह तेलंगाना सरकार द्वारा लोकतंत्र की हत्या का जीवंत उदाहरण है। भाजपा तेलंगाना सरकार के इस कुत्सित प्रयास की कड़ी भर्त्सना करती है।
ज्ञात हो कि तेलंगाना पुलिस ने कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों का कथित तौर पर उल्लंघन करने के आरोप में रविवार को बी. संजय कुमार को करीमनगर में हिरासत में ले लिया था। हालांकि नड्डा ने दावा किया कि बी. संजय कुमार शांतिपूर्ण तरीके से सरकार के मनमाने आदेश का विरोध कर रहे थे और इस दौरान कोविड-19 के सभी दिशा-निर्देशों का पालन कर रहे थे। प्रदेश अध्यक्ष ने शिक्षकों तथा अन्य सरकारी कर्मचारियों के तबादले के संबंध में जारी एक आदेश के खिलाफ अपने लोकसभा कार्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ एक रात का जागरण व उपवास रखा था। नड्डा ने कहा कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और उनकी सरकार इस शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन से भी डर गई।
उन्होंने कहा कि तेलंगाना की टीआरएस सरकार हाल के उपचुनावों में भाजपा को मिली जीत और प्रदेश में भाजपा की बढ़ रही लोकप्रियता से बौखला गई है। उन्होंने कहा, 'इसलिए हताशा में इस तरह की अमानवीय कारावाई कर रही है। भाजपा उनकी इस तरह की घृणित कार्रवाई से डरेगी नहीं बल्कि और जोश एवं ताकत के साथ तेलंगाना की जनता के लिए लोकतांत्रिक लड़ाई लड़ती रहेगी और टीआरएस के दमनकारी शासन का अंत करेगी।