logo
कर्नाटक: पीएसआई भर्ती गड़बड़ी मामले में 2 गिरफ्तार
बोम्मई बोले: गहराई से की जाएगी जांच, दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई
 
अंतरिम रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई पर फैसला किया जाएगा

कलबुर्गी/दक्षिण भारत। अफजलपुर विधायक एमवाई पाटिल के गनमैन रुद्र गौड़ा और अय्याली देसाई को पीएसआई भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी के मामले में गिरफ्तार किया गया है। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि अनियमितताओं की गहराई से जांच की जाएगी।

कलबुर्गी में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए बोम्मई ने कहा, यूपीएससी भर्ती परीक्षा की तर्ज पर व्यवस्था की गई थी। कड़ी सुरक्षा और पारदर्शी व्यवस्था के बावजूद अनियमितताएं बरती गईं। बोम्मई ने कहा, 'हम इन्हें (अनियमितताएं) खत्म करना चाहते हैं।'

अनियमितताओं की शिकायत मिलने पर अधिकारियों को तत्काल प्रारंभिक जांच करने के निर्देश दिए गए। उत्तर पुस्तिकाओं में अंतर पाए जाने पर मामला सीआईडी को सौंपा गया। त्वरित और पारदर्शी जांच के निर्देश जारी किए गए हैं। कलबुर्गी में शिक्षण संस्थानों के प्रमुखों से पूछताछ की गई है। ज्ञानज्योति स्कूल का हैड फरार है। उसकी तलाश की जा रही है।

बोम्मई ने कहा कि कांग्रेस विधायक एमवाई पाटिल के गनमैन अय्याली देसाई और रुद्र गौड़ा को गिरफ्तार कर लिया गया है। परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों से भी पूछताछ होगी और गहन जांच की जाएगी।

बोम्मई ने कहा कि दिव्या हागरागी भाजपा में कोई जिम्मेदार पद नहीं संभाल रही हैं। इस मामले में जो भी शामिल होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सीआईडी को जांच के लिए खुली छूट दे दी गई है। अन्य दलों के पास अपने शासन के दौरान इसी तरह के मामलों को कवर करने का रिकॉर्ड है। हम ऐसे समय को याद कर सकते हैं जब पीएसआई टेस्ट तीन-चार बार किए गए थे।

विपक्षी पार्टियों द्वारा अदालत की निगरानी में जांच या सीबीआई जांच की मांग पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बोम्मई ने कहा, 'अंतरिम रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई पर फैसला किया जाएगा।'

<