logo
अमृतकाल में भारत ग्रीन ग्रोथ और ग्रीन जॉब्स की प्रतिबद्धता के साथ बढ़ रहा आगे: मोदी
प्रधानमंत्री ने मेंगलूरु में 3,800 करोड़ रुपए की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया
 
'विकसित भारत के निर्माण के लिए विनिर्माण क्षेत्र और मेक इन इंडिया का विस्तार करना बेहद जरूरी'

मेंगलूरु/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को कर्नाटक के मेंगलूरु पहुंचे। यहां उन्होंने करीब 3,800 करोड़ रुपए के मशीनीकरण एवं औद्योगीकरण परियोजनाओं का उद्घाटन तथा शिलान्यास किया। उन्होंने एक बड़ी जनसभा को भी संबोधित किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि विकसित भारत के निर्माण के लिए विनिर्माण क्षेत्र और मेक इन इंडिया का विस्तार करना बेहद जरूरी है। इसके अलावा, हमें निर्यात बढ़ाने और उत्पादों को प्रतिस्पर्धी बनाने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले वर्षों में, राष्ट्र ने बंदरगाह के नेतृत्व वाले विकास को एक महत्वपूर्ण मंत्र बनाया है। इन प्रयासों के परिणामस्वरूप, पिछले 8 वर्षों में भारतीय बंदरगाहों की क्षमता दोगुनी हो गई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अमृतकाल में भारत ग्रीन ग्रोथ और ग्रीन जॉब्स की प्रतिबद्धता के साथ आगे बढ़ रहा है। रिफाइनरियों में जोड़ी गईं नई सुविधाएं हमारी प्राथमिकताओं को दर्शाती हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कर्नाटक सागरमाला परियोजना के सबसे बड़े लाभार्थियों में से एक है। राष्ट्रीय राजमार्ग के क्षेत्र में पिछले 8 वर्षों में 70,000 करोड़ रुपए की परियोजनाओं पर काम चल रहा है। इसके अलावा एक लाख करोड़ रुपए से अधिक की परियोजनाएं कतार में हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत लगभग 4 करोड़ गरीब लोगों को मुफ्त इलाज का लाभ मिला है। इससे उन्हें लगभग 50,000 करोड़ रुपए बचाने में मदद मिली है। कर्नाटक में करीब 30 लाख गरीब लोगों को आयुष्मान योजना का लाभ मिला है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम मछुआरों के कल्याण के लिए और उनकी आय बढ़ाने की दिशा में काम कर रहे हैं। मछुआरों को सब्सिडी और किसान क्रेडिट कार्ड सरकार द्वारा दी गई मदद के कुछ उदाहरण हैं।

बता दें कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने प्रधानमंत्री की अगवानी की। वे हेलिकॉप्टर से न्यू मेंगलूरु बंदरगाह प्राधिकरण (एनएमपीए) के पनम्बूर स्थित परिसर पहुंचे। यहां विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन करने या उनकी नींव रखने के बाद वे जनसभा को संबोधित करने के लिए गोल्डफिंच सिटी ग्राउंड पहुंचे।

<