logo
मप्र: साइकिल से घर-घर खाना पहुंचा रहा था युवक, पुलिस ने दिलाई मोटरसाइकिल
रात्रि गश्त के दौरान देखा कि पसीने से लथ-पथ जय हल्दे तेज गति से साइकिल चलाते हुए भोजन के पार्सल लेकर जा रहा था
 
युवक पहले छह से आठ पार्सल पहुंचा पाता था लेकिन अब 15 से 20 भोजन पार्सल पहुंचा रहा है

इंदौर/भाषा। इंदौर में एक ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी के 22 वर्षीय कर्मचारी को साइकिल से घर-घर खाना पहुंचाते देख पुलिस ने उसकी आर्थिक मदद करते हुए उसे मोटरसाइकिल दिलवाई है। पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

विजय नगर पुलिस थाने के प्रभारी तहजीब काजी ने बताया कि उन्होंने हाल ही में रात्रि गश्त के दौरान देखा कि पसीने से लथ-पथ जय हल्दे (22) तेज गति से साइकिल चलाते हुए भोजन के पार्सल लेकर जा रहा था।

उन्होंने बताया, ‘युवक से बातचीत पर पता चला कि वह आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे परिवार से ताल्लुक रखता है और उसके पास मोटरसाइकिल खरीदने के लिए धन नहीं है।’

काजी ने बताया कि विजय नगर पुलिस थाने के कर्मचारियों ने आपस में चंदा करके शहर के एक वाहन डीलर को शुरुआती भुगतान (डाउन पेमेंट) किया और हल्दे को मोटरसाइकिल दिलवा दी।

थाना प्रभारी ने बताया कि स्वाभिमानी युवक ने पुलिस से कहा है कि वह अपने दम पर मोटरसाइकिल की बाकी किश्तें जमा कराएगा।

मोटरसाइकिल के लिए पुलिस का आभार जताते हुए हल्दे ने कहा, ‘पहले मैं साइकिल से हर रात भोजन के महज छह से आठ पार्सल घरों तक पहुंचा पाता था लेकिन अब मैं मोटरसाइकिल से हर रात 15 से 20 भोजन पार्सल पहुंचा रहा हूं।’

<