logo
जम्मू-कश्मीरः बॉर्डर के पास फिर मंडराया पाकिस्तानी ड्रोन, तलाशी अभियान जारी
सेना ने कानाचक इलाके में पाकिस्तान की ओर से शुक्रवार रात रात नौ बजकर 40 मिनट पर चमकती हुई लाल रोशनी देखी
 
बीएसएफ के सतर्क बलों ने उस दिशा में गोलियां चलाईं

जम्मू/भाषा। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने जम्मू-कश्मीर के कानाचक सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास एक पाकिस्तानी ड्रोन दिखने के बाद उस पर गोलियां चलाईं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी ने बताया कि सेना ने कानाचक इलाके में पाकिस्तान की ओर से शुक्रवार रात रात नौ बजकर 40 मिनट पर चमकती हुई लाल रोशनी देखी और बीएसएफ के सतर्क बलों ने उस दिशा में गोलियां चलाईं।
उन्होंने बताया कि बलों ने इलाके में तलाश अभियान शुरू किया है, जो अभी जारी है।

इससे पहले, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने लश्कर-ए-तैयबा के एक आतंकवादी नेटवर्क का भंडाफोड़ करते हुए प्रतिबंधित संगठन के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया था और उनके पास से पाकिस्तान की ओर से 20 ड्रोन उड़ान के जरिए कथित रूप से गिराए गए हथियार, गोला-बारूद और विस्फोटक सामग्री का बड़ा जखीरा बरामद किया था।

ऐसा बताया जा रहा है कि लश्कर ने जम्मू और राजौरी जिलों में तीन आतंकवादी माड्यूल तैनात किए थे, जिनके जरिए जम्मू, सांबा, कठुआ और राजौरी जिलों के सीमावर्ती इलाकों में ड्रोन से गिराए गए हथियारों को एकत्र करके आतंकवादियों तक पहुंचाया जाता था।

<