logo
हार रही महामारी: देश में कोरोना रोधी टीके की 190 करोड़ से अधिक खुराकें दी गईं
अभी तक 12-14 साल के आयु वर्ग में 3.01 करोड़ से अधिक बच्चों को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है
 
18-59 वर्ष के आयु वर्ग में 9,95,265 लोगों को एहतियाती खुराक दी जा चुकी है

नई दिल्ली/भाषा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि देश में अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 190 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं।

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, अभी तक 12-14 साल के आयु वर्ग में 3.01 करोड़ (3,10,97,120) से अधिक बच्चों को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है। साथ ही 18-59 वर्ष के आयु वर्ग में 9,95,265 लोगों को एहतियाती खुराक दी जा चुकी है।

भारत ने 10 अप्रैल को निजी टीकाकरण केंद्रों पर 18 साल से अधिक आयु के लोगों को कोविड-19 रोधी टीके की एहतियाती खुराक देना शुरू किया था। टीके की दूसरी खुराक लेने के नौ महीने बाद 18 साल से अधिक आयु के सभी लोग एहतियाती खुराक ले सकते हैं।

देश भर में पिछले साल 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था और पहले चरण में स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों को टीके की खुराक दी गयी थी। दो फरवरी से, अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मचारियों का टीकाकरण शुरु हुआ। अगले चरण का टीकाकरण अभियान एक मार्च 2021 को शुरू हुआ और इसके तहत 60 साल से अधिक आयु वाले और 45 तथा उसे अधिक आयु वाले अन्य बीमारियों से पीड़ित लोगों को टीके की खुराक दी गयी।

देश में पिछले साल एक अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू हुआ। सरकार ने फिर पिछले साल एक मई से 18 साल से अधिक आयु के सभी लोगों को टीके की खुराक देने का फैसला किया। भारत ने 15-18 वर्ष के आयु वर्ग के किशोरों के लिए तीन जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू किया।

<