logo
सरहद पर पाकिस्तानी कबूतर के पंजे में छिपा आईएसआई का जासूसी कोड!
 
सरहद पर पाकिस्तानी कबूतर के पंजे में छिपा आईएसआई का जासूसी कोड!
प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay

अमृतसर/दक्षिण भारत। दुनिया में कोरोना महामारी के कारण हालात चिंताजनक हैं, लेकिन पाकिस्तान अपनी आतंकी हरकतों को जारी रखे हुए है। बीएसएफ ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की एक और साजिश को नाकाम कर दिया है।

जानकारी के अनुसार, यहां बीएसएफ ने रोरावाला चौकी पर पाकिस्तान के एक कबूतर को पकड़ा है। यह कबूतर यहां बीएसएफ के एक जवान के कंधे पर आकर बैठ गया। यह कबूतर सरहद पार से उड़कर यहां आया था।

जब कबूतर की जांच की गई तो उस पर एक नंबर लिखा हुआ था। यह नंबर कोई खुफिया कोड हो सकता है जिसका इस्तेमाल पाकिस्तान द्वारा आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए किया जाना था।

इस मामले में बीएसएफ कानूनी कार्रवाई पर विचार कर रही है। हालां​कि विशेषज्ञों का मानना है कि उक्त घटना में ​अभी तक कोई इन्सान पकड़ में नहीं आया है, इसलिए कार्रवाई को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। मामले में पंजाब पुलिस कानूनी राय ले रही है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, इस कबूतर के पांव में कागज का टुकड़ा बंधा था, जिस पर एक नंबर लिखा हुआ था। सुरक्षा बलों के अधिकारी यह जांच कर रहे हैं कि इस नंबर का क्या मतलब हो सकता है।

बता दें कि सीमावर्ती इलाकों में पहले भी पाकिस्तानी एजेंसियों द्वारा जासूसी और घुसपैठ की घटनाओं को अंजाम दिया जाता रहा है। इनमें इन्सानों के अलावा पक्षियों का भी इस्तेमाल होता है, इसलिए सुरक्षा बल पाकिस्तानी कबूतर के पकड़ में आने के मामले को गंभीरता से ले रहे हैं।