logo
कोरोना के असर को मात देकर खूब चमक रहा भारत का आईटी क्षेत्र
वृद्धि दर में बढ़ोतरी मुख्य रूप से देश में उद्यमों द्वारा डिजिटल परिवर्तन पहल पर निरंतर ध्यान देने के कारण हुआ
 
जनवरी-जून 2020 की अवधि में आईटी और कारोबार सेवाओं के बाजार ने 5.1 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की थी

नई दिल्ली/भाषा। भारतीय आईटी और कारोबार सेवाओं के बाजार का मूल्य 6.96 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया है और 2021 की पहली छमाही में सालाना आधार पर 6.4 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गयी है। अनुसंधान कंपनी आईडीसी ने बुधवार को यह जानकारी दी।

आईडीसी ने कहा कि जनवरी-जून 2020 की अवधि में आईटी और कारोबार सेवाओं के बाजार ने 5.1 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की थी।

अनुसंधान कंपनी ने कहा, 'वृद्धि दर में बढ़ोतरी मुख्य रूप से देश में उद्यमों द्वारा डिजिटल परिवर्तन पहल पर निरंतर ध्यान देने के कारण हुआ।'

आईटी और व्यापार सेवाओं के बाजार में, आईटी सेवाओं के बाजार ने 78 प्रतिशत का योगदान दिया और 2021 की पहली छमाही में 7.3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की, जबकि एक साल पहले की अवधि में 5.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी।

आईडीसी के अनुसार, अर्थव्यवस्था के पुनरुद्धार और क्लाउड, सुरक्षा, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस आदि जैसे क्षेत्रों में खर्च में वृद्धि के कारण आने वाले चक्रों में आईटी और व्यावसायिक सेवा बाजार में वृद्धि देखी जाएगी।

आईडीसी ने कहा कि आईटी और कारोबार सेवाओं का बाजार 2025 के अंत तक 19.93 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है और यह 2020-2025 के बीच 8.2 प्रतिशत की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर (सीएजीआर) से बढ़ रहा है।

देश-दुनिया के समाचार FaceBook पर पढ़ने के लिए हमारा पेज Like कीजिए, Telagram चैनल से जुड़िए