logo
नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में 1.3 लाख करोड़ रुपए के समझौता ज्ञापन पर कर्नाटक ने किए हस्ताक्षर
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में पड़ने वाले मुंबई-चेन्नई गलियारे के पूरे क्षेत्र में उद्योग स्थापित करना चाहती है
 
इसके साथ ही समुद्र के किनारे नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापना करेगी

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। कर्नाटक ने नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में 1.3 लाख करोड़ रुपए के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि राज्य में जल्द ही हाइड्रोजन ईंधन के क्षेत्र में काम शुरू होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में पड़ने वाले मुंबई-चेन्नई गलियारे के पूरे क्षेत्र में उद्योग स्थापित करना चाहती है। इसके साथ ही समुद्र के किनारे नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापना करेगी।

मुख्यमंत्री ने बेंगलूरु अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र में ‘लघु उद्योग भारती’ द्वारा आयोजित भारतीय विनिर्माण कार्यक्रम-2022 के उद्घाटन समारोह में कहा, ‘हम नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में व्यापक काम कर रहे हैं, हाइड्रोजन ईंधन का उत्पादन भी जल्द ही शुरू करेंगे।’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हमने नवीकरणीय ऊर्जा में 1.3 लाख करोड़ रुपए के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।’

उन्होंने कहा कि समुद्री जल से अमोनिया का उत्पादन किया जाएगा।

<