logo
भाजपा युवा नेता की हत्या के बाद दक्षिण कन्नड़ जिले में तनाव
युवक मंगलवार रात को अपनी पॉल्ट्री की दुकान बंद करने के बाद घर लौट रहा था
 
मोटरसाइकिल पर केरल की पंजीकरण संख्या थी

मेंगलूरु/भाषा। दक्षिण कन्नड़ जिले में भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के एक नेता की हत्या के बाद सुलिया तालुक में बेल्लारे और अन्य स्थानों पर तनाव व्याप्त हो गया है।

गौरतलब है कि युवक मंगलवार रात को अपनी पॉल्ट्री की दुकान बंद करने के बाद घर लौट रहा था, तभी मोटरसाइकिल पर आए दो लोगों ने उस पर हमला कर दिया। मोटरसाइकिल पर केरल की पंजीकरण संख्या थी।

भाजयुमो कार्यकर्ता प्रवीण नेत्तारू की हत्या की खबर आग की तरह फैल गई और बड़ी संख्या में लोग बेल्लारे पुलिस थाने के सामने एकत्रित हो गए। हिंदू संगठनों ने भी उस अस्पताल के सामने प्रदर्शन किया, जहां नेत्तारू का शव रखा गया है।

विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने हत्या के विरोध में बुधवार को जिले में सुलिया, कदाबा और पुत्तुर तालुकों में बंद का आह्वान किया है।

पुलिस ने बताया कि ऐसा संदेह है कि बेल्लारे में हुई एक अन्य हत्या के प्रतिशोध में यह हत्या की गई है।

सूत्रों ने बताया कि कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए सुलिया और आसपास के तालुकों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

बेल्लारे में तनाव व्याप्त हो गया है और पुलिस ने लोगों के प्रदर्शनों के बीच इलाके में सभी दुकानों, प्रतिष्ठानों और होटलों को बंद करा दिया है।

दक्षिण कन्नड़ के जिला पुलिस अधीक्षक ऋषिकेश सोनवाने ने बताया कि जांच चल रही है लेकिन अभी कोई सुराग नहीं मिला है।

हमलावरों के केरल से आने की संभावना पर अधिकारी ने कहा, ‘ऐसा हो सकता है। हम विभिन्न पहलुओं पर काम कर रहे हैं। हम इसकी जांच कर रहे हैं।’

भाजपा की दक्षिण कन्नड़ इकाई के अध्यक्ष सुदर्शन मूदबिदरी ने कहा कि प्रवीण नेत्तारू संघ परिवार का सक्रिय सदस्य था, जिसने सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र में अपनी पहचान बनाई थी।

<