logo
जीएसटी लगातार तीसरे महीने एक लाख करोड़ रु. के पार, सितंबर में 1.17 लाख करोड़ रु. का संग्रह
सितंबर 2021 का राजस्व संग्रह सितंबर 2020 के संग्रह से 23 प्रतिशत अधिक है
 
सीजीएसटी का अर्थ केंद्रीय वस्तु और सेवा कर, एसजीएसटी का अर्थ राज्य वस्तु और सेवा कर तथा आईजीएसटी का अर्थ एकीकृत वस्तु और सेवा कर है।

नई दिल्ली/भाषा। वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि भारत में वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) संग्रह सितंबर में 1.17 लाख करोड़ रुपए रहा, जो लगातार तीसरे महीने एक लाख करोड़ रुपए से अधिक है। वित्त मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक सितंबर 2021 का राजस्व संग्रह सितंबर 2020 के संग्रह से 23 प्रतिशत अधिक है।

वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘सितंबर 2021 में जमा सकल जीएसटी राजस्व 1,17,010 करोड़ रुपए है, जिसमें सीजीएसटी 20,578 करोड़ रुपए, एसजीएसटी 26,767 करोड़ रुपए, आईजीएसटी 60,911 करोड़ रुपए (माल के आयात पर एकत्रित 29,555 करोड़ रुपए सहित) और उपकर 8,754 करोड़ रुपए (माल के आयात पर जमा 623 करोड़ रुपये सहित) है।’

सीजीएसटी का अर्थ केंद्रीय वस्तु और सेवा कर, एसजीएसटी का अर्थ राज्य वस्तु और सेवा कर तथा आईजीएसटी का अर्थ एकीकृत वस्तु और सेवा कर है। सितंबर के दौरान वस्तुओं के आयात से राजस्व 30 प्रतिशत अधिक रहा और घरेलू लेनदेन (सेवाओं के आयात सहित) से राजस्व पिछले वर्ष के इसी महीने की तुलना में 20 प्रतिशत अधिक था।