एअर इंडिया का विमान। फोटो: फेसबुक पेज।
एअर इंडिया का विमान। फोटो: फेसबुक पेज।

नई दिल्ली/भाषा। भारतीय विमानन के इतिहास में पहली बार महिला चालक दल कोई उड़ान संचालित करेगा और वह उड़ान सैन फ्रांसिस्को-बेंगलूरु के बीच शनिवार को पहली उड़ान होगी।

विमानन कंपनी एअर इंडिया ने एक बयान में कहा, ‘यह एअर इंडिया द्वारा अथवा भारत में किसी अन्य एयर लाइन की सबसे लंबी वाणिज्यिक उड़ान है- इस मार्ग पर कुल उड़ान समय 17 घंटे से अधिक है और यह उस दिन की हवा की गति पर निर्भर करेगा।’

एअर इंडिया के एक अधिकारी ने कहा कि दुनिया के दो छोर पर बसे दोनों शहरों के बीच की सीधी दूरी 13,993 किलोमीटर है जिसमें लगभग 13.5 घंटे का समय क्षेत्र परिवर्तन है।

इससे पहले नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा था, ‘एअर इंडिया की महिला शक्ति दुनिया भर में परचम लहरा रही है।’

पुरी ने ट्वीट किया, ‘कैप्टन जोया अग्रवाल, कैप्टन पी. थानमाई, कैप्टन आकांक्षा सोनावरे और कैप्टन शिवानी मन्हास की टीम बेंगलूरु और सैन फ्रांसिस्को के बीच पहली ऐतिहासिक उड़ान का संचालन करेगी।’

विमान एआई176 अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को से शनिवार को स्थानीय समयानुसार रात 8.30 बजे उड़ान भरेगा और सोमवार तड़के 3.45 बजे (स्थानीय समयानुसार) कैंपेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरेगा।

राष्ट्रीय विमानन ने कहा कि कैप्टन जोया अग्रवाल एक काबिल पायलट हैं जिनके पास 8,000 घंटे से अधिक उड़ान का अनुभव है।