logo
कर्नाटक उपचुनाव परिणाम के कारण सरकार पर कोई असर नहीं पड़ेगा: बोम्मई
उन्होंने कहा कि चुनाव परिणाम के लिए विभिन्न कारक जिम्मेदार होते हैं
 
यह मुख्यमंत्री बनने के बाद बोम्मई के लिए पहली बड़ी चुनावी चुनौती भी थी

बेंगलूरु/भाषा। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बुधवार को कहा कि उपचुनाव के परिणामों का 2023 में होने वाले आम चुनाव से कोई संबंध नहीं है और इनसे राज्य सरकार पर किसी प्रकार का असर नहीं पड़ेगा।

कर्नाटक में दो विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को सिन्डगी सीट पर जीत दर्ज की, लेकिन हंगल में वह कांग्रेस से हार गयी। सिन्डगी में भाजपा के रमेश भूसानुर ने जीत दर्ज की। हंगल में भाजपा के शिवराज सज्जनार को हराकर कांग्रेस के श्रीनिवास माने ने जीत हासिल की।

भाजपा का हंगल से हारना मुख्यमंत्री बोम्मई के लिए झटका माना जा रहा है क्योंकि यह हावेरी जिले में उनके शिग्गांव विधानसभा क्षेत्र का पड़ोसी निर्वाचन क्षेत्र है और उन्होंने यहां काफी प्रचार किया था। यह मुख्यमंत्री बनने के बाद बोम्मई के लिए पहली बड़ी चुनावी चुनौती भी थी।

कांग्रेस ने बयान दिया था कि ये उपचुनाव 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव के संकेतक साबित होंगे। कांग्रेस के इस बयान के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष को यह कहना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भी अतीत में कई उपचुनाव हारे हैं। बोम्मई ने कहा, ‘सच्चाई यह है कि कांग्रेस ने भी कई उपचुनाव हारे हैं। उपचुनाव के परिणाम का आम चुनाव से कोई संबंध नहीं है। इसका सरकार पर कोई असर नहीं पड़ेगा।’

उन्होंने सवाल किया कि कांग्रेस नेता सिन्डगी के बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं। बोम्मई ने कहा, ‘उनका सिन्डगी के बारे में क्या कहना है, जहां उन्हें 38,000 मतों के अंतर से हार मिली है?’

उन्होंने कहा कि चुनाव परिणाम के लिए विभिन्न कारक जिम्मेदार होते हैं और उपचुनाव के परिणाम की तुलना राज्यस्तरीय चुनाव से करना अनुचित है। बोम्मई ने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने स्वयं कहा था कि परिणाम आम चुनाव के संकेतक नहीं होंगे, लेकिन अब वे इसके विपरीत बात कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा की एक सीट पर हार और दूसरी सीट पर जीत होना आम बात है। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मैं जीत और हार को समान तरीके से लेता हूं। मैं सिन्डगी में जीत के लिए अपनी पार्टी के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को बधाई देता हूं। हम हंगल में अपनी हार के पीछे के कारण का आत्मनिरीक्षण कर रहे हैं।’

उन्होंने दोहराया कि भाजपा हंगल में हार के कारणों की समीक्षा करेगी और आने वाले दिनों में गलतियों को सुधारेगी। उनकी सरकार के जल्द ही 100 दिन पूरे होने संबंधी सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बड़ी उपलब्धियां हासिल करने के लिए यह अवधि बहुत कम है। हालांकि, उन्होंने कहा कि उनकी सरकार जनता की भलाई के लिए तय किए गए लक्ष्यों, उद्देश्यों और प्रमुख फैसलों के बारे में लोगों को सूचित करेगी।

देश-दुनिया के समाचार FaceBook पर पढ़ने के लिए हमारा पेज Like कीजिए, Telagram चैनल से जुड़िए