अभिनेत्री कंगना रनौत
अभिनेत्री कंगना रनौत

मुंबई/शिमला/दक्षिण भारत/भाषा। अभिनेत्री कंगना रनौत को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है। एक रिपोर्ट के अनुसार, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस संबंध में फैसला लिया है। यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है जब कंगना और शिवसेना नेता संजय राउत में एक-दूसरे पर शब्दप्रहार का दौर जारी है।

इस संबंध में ट्वीट करते हुए कंगना ने कहा, ‘यह प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा। मैं अमित शाहजी की आभारी हूं। वे चाहते तो हालात के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा, हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज रखी, जय हिंद।’

बताया गया कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद फिल्म उद्योग के एक धड़े में नशीली दवाओं के उपयोग के बारे में बोलने के बाद कंगना को नए सिरे से मिल रही धमकी के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि अर्द्धसैनिक बल के माध्यम से रनौत को वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध कराने का निर्णय किया है। वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा के तहत करीब 10 सशस्त्र कमांडों की तैनाती की जाती है।

इससे पहले, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को कहा था कि राज्य सरकार ने कंगना को राज्य में सुरक्षा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है और उनकी मुंबई यात्रा के दौरान भी सुरक्षा उपलब्ध कराने पर सरकार विचार कर रही है।

भाजपा विधायक दल की बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से कहा, ‘उन्हें सुरक्षा उपलब्ध कराना हमारा कर्तव्य है क्योंकि वह हिमाचल प्रदेश की बेटी है और एक सेलिब्रिटी है।’ पत्रकारों के सवालों के जवाब में ठाकुर ने कहा कि कंगना रनौत की बहन और उनके पिता ने सरकार का रुख कर अभिनेत्री को सुरक्षा उपलब्ध कराने का आग्रह किया था।

ठाकुर ने कहा, ‘उनकी बहन ने मुझे टेलीफोन किया और मुझसे बात की। उनके पिता ने राज्य पुलिस को पत्र लिखकर सुरक्षा दिए जाने की मांग की। इसलिए मैंने डीजीपी से राज्य में अभिनेत्री को सुरक्षा उपलब्ध कराने को कहा है।’

उन्होंने कहा कि अभिनेत्री का नौ सितम्बर को मुंबई जाने का कार्यक्रम है और इस दौरान भी सरकार उन्हें सुरक्षा उपलब्ध कराने पर विचार कर रही है। मुख्यमंत्री ने हालांकि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले पर कंगना रनौत के हाल के बयान पर कुछ भी कहने से इनकार किया और कहा कि मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने शिवसेना नेता संजय राउत द्वारा अभिनेत्री को दी जा रही कथित धमकियों पर भी कुछ कहने से इनकार कर दिया।