साध्वी कंचनप्रभा व अणिमाश्री का हुआ अध्यात्मिक मिलन

67

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। शहर के विजयनगर स्थित अर्हम भवन में गुरुवार को साध्वीश्री कंचनप्रभाजी व साध्वीश्री अणिमाश्रीजी का अध्यात्मिक मिलन हुआ्‌। इस मौके पर साध्वीवृंदों के स्वागत में भवन ट्रस्ट के अध्यक्ष कन्हैयालाल गिरिया, गांधीनगर तेरापंथ सभा के मंत्री एवं महासभा के सहमंत्री प्रकाश लोढ़ा, विजयनगर तेयुप के पूर्व अध्यक्ष दिनेश मरोठी, विजयनगर तेरापंथ महिला मंडल की अध्यक्ष कुसुम डांगी, अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल की पूर्व महामंत्री वीना बैद, राजराजेश्र्वरीनगर तेरापंथ सभा के अध्यक्ष कमल दुग्गड़, प्रेम भंसाली आदि वक्ताओं ने साध्वियों का स्वागत किया। साध्वी मंजूरेखाजी, उदितप्रभाजी, निर्भयप्रभाजी, चेलनाश्रीजी ने गीतों से अणिमाश्री का स्वगात किया। साध्वी मंजूरेखाजी ने कहा कि आचार्यश्री तुलसी के सान्निध्य में 42 वर्ष पूर्व बिताए पलों की स्मृतियां ताजा हो गई्‌। साध्वीश्री अणिमाश्रीजी, कनिकाश्रीजी, सुधाप्रभाजी, मैत्रीप्रभाजी एवं साध्वी समत्वययशाजी ने गीतों से अपने विचारों की अभिव्यक्ति की। साध्वीश्री अणिमाश्रीजी ने कहा, आज मातृतुल्य साध्वीश्री कंचनप्रभाजी से मिलकर मन अत्यंत आनंदित हैं्‌। साध्वीश्री कंचनप्रभाजी ने कहा हमारा यह मिलन पूरे समाज को अध्यात्म, विनय एवं वात्सल्य की जागृत प्रेरणा प्रदान करता है। यह तेरापंथ धर्मसंघ की गरिमा है इस मिलन से 42 वर्ष पूर्व हमारा मिलन हरियाणा की धरा पर हुआ था और इस बार फिर गांधीनगर में चातुर्मास करने आईं अणिमाश्रीजी के सफल चातुर्मास की हार्दिक शुभकामनाएं्‌। कार्यक्रम का संचालन अंजू सेठिया ने किया।