बेजन दारूवाला
बेजन दारूवाला

अहमदाबाद/दक्षिण भारत। मशहूर ज्योतिषी बेजन दारूवाला का अहमदाबाद के एक अस्पताल में शुक्रवार को निधन हो गया। वे 89 साल के थे। उनकी मौत की वजह फेफड़ों का संक्रमण बताया गया है। पिछले हफ्ते, उन्हें सांस लेने में कठिनाई हुई तो अहमदाबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। तबीयत बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था।

प्रसिद्ध ज्योतिषी के निधन की खबर के बाद कई मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया कि उनकी मौत कोरोनोवायरस के कारण हुई। हालांकि दारूवाला के बेटे नास्तूर जो ज्योतिषी हैं, ने उन रिपोर्टों को खारिज किया है।

इससे पहले, ऐसी खबरें सामने आई थीं जिनमें इस बात का जिक्र किया गया था कि दारूवाला कोरोना संक्रमित हैं और उनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हालांकि, नास्तूर ने इन खबरों को अफवाह करार दिया। उन्होंने बताया कि उनके पिता को निमोनिया था और वे फेफड़ों के संक्रमण से पीड़ित थे। साथ ही, उनके शरीर में ऑक्सीजन का स्तर कम हो गया था।

जुलाई 1931 में जन्मे दारूवाला की गणेशजी में गहरी आस्था थी। वे अपनी भविष्यवाणियों के लिए वैदिक ज्योतिष, अंक ज्योतिष, हस्तरेखाशास्त्र, आई-चिंग, टैरो, कबला और यहां तक कि पश्चिमी ज्योतिष जैसी विभिन्न विधियों का उपयोग किया करते थे।

बेजन दारूवाला कई पत्र—पत्रिकाओं के लिए ज्योतिष संबंधी भविष्यवाणियों पर कॉलम लिखा करते थे जिन्हें पाठकों ने बहुत पसंद किया। उनकी कई भविष्यवाणियां चर्चा में रहीं, इनमें दुर्घटना में संजय गांधी का निधन, अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्री बनने, कारगिल युद्ध, गुजरात भूकंप, मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री बनने, भाजपा के शक्तिशाली बनकर उभरने और नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने का दावा किया गया था। राजनीति और फिल्म जगत से जुड़ीं कई मशहूर हस्तियां उनसे परामर्श लेती थीं।