भुवनेश्वर/भाषा। ओडिशा के सुंदरगढ़ जिले का कोविड-19 का एक मरीज ठीक हो गया है और जल्द ही उसे अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी। राज्य सरकार ने यह जानकारी दी। सुंदरगढ़ जिले के बिसरा क्षेत्र के एक 67 वर्षीय व्यक्ति और एक 18 वर्षीय लड़के को वायरस से संक्रमित पाया गया था। उन्हें राउरकेला के हाई-टेक कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इनमें बुजुर्ग व्यक्ति ने पिछले महीने दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात द्वारा आयोजित एक धार्मिक कार्यक्रम में भाग लिया था, जिसके संपर्क में आने के बाद किशोर भी संक्रमित हो गया। हालांकि, यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो सका है कि दोनों में से कौनसा मरीज ठीक हो चुका है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने कहा कि इस मरीज के ठीक होने के बाद राज्य में कोविड-19 से ठीक होने वाले व्यक्तियों की कुल संख्या 19 हो गई है। एक अधिकारी ने कहा कि ओडिशा में बीमारी से ठीक होने की दर 30 फीसदी है।

विभाग ने बुधवार रात ट्वीट कर बताया कि यह जानकारी साझा करते हुए वास्तव में खुशी हो रही है कि आज हमने कोविड-19 के लिए 1,197 नमूनों की जांच की, जो अब तक का उच्चतम है। कोई नया मामला नहीं मिला।

15 अप्रैल तक राज्य में कुल 6,734 नमूनों की जांच की गई है, जिनमें से 60 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। एक अधिकारी ने बताया कि ओडिशा में इलाजरत रोगियों की संख्या अब 40 है। भुवनेश्वर के झारपाड़ा इलाके में रहने वाले 72 वर्षीय एक व्यक्ति की 6 अप्रैल को बीमारी से मौत हो गई थी।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की निदेशक शालिनी पंडित ने बुधवार को कहा कि केवल दो मरीजों को अस्पताल में देखभाल की आवश्यकता है, जबकि बाकी को अस्पताल में पृथकवास में रखा गया है। उन्होंने कहा कि कई लोगों को जल्द ही अस्पतालों से छुट्टी मिल जाएगी।