प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए आईआईटी दिल्ली के 51वें वार्षिक दीक्षांत समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोरोना का यह संकट काल दुनिया में बहुत बड़े बदलाव लेकर आया है। कोरोना के बाद दुनिया बहुत अलग होने जा रही है और इसमें बहुत बड़ी भूमिका टेक्नोलॉजी की ही होगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान की सफलता के लिए ये बहुत बड़ी ताकत है। कोविड-19 ने दुनिया को एक बात और सिखा दी है। ग्लोबलाइजेशन महत्वपूर्ण है लेकिन इसके साथ-साथ आत्मनिर्भरता भी उतनी ही जरूरी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पहली बार कृषि क्षेत्र में इनोवेशन और नए स्टार्टअप्स के लिए इतनी संभावनाएं बनी हैं। पहली बार स्पेस सेक्टर में प्राइवेट इनवेस्टमेंट के रास्ते खुले हैं। दो दिन पहले ही, बीपीओ सेक्टर के ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के लिए भी एक बड़ा रिफॉर्म किया गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे प्रावधान जो टेक इंडस्ट्री को वर्क फ्रॉम होम या फिर वर्क फ्रॉम एनीवेयर जैसी सुविधाओं से रोकते थे, उनको भी हटा दिया गया है। ये देश के आईटी सेक्टर को ग्लोबली और कम्पेटिटिव बनाएगा और आप जैसे यंग टैलेंट को और ज्यादा मौके देगा।