कमल रानी वरुण
कमल रानी वरुण

लखनऊ/भाषा। उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण का रविवार सुबह राजधानी के एक अस्पताल में निधन हो गया। वे कोरोना वायरस से संक्रमित थीं।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश सरकार की प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण का सुबह लगभग साढ़े नौ बजे संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में इलाज के दौरान निधन हो गया।

कमल रानी वरुण कोरोना संक्रमित पाई गई थीं और एसजीपीजीआई में उपचार करा रही थीं। कानपुर नगर के घाटमपुर से विधायक कमल रानी इससे पूर्व 11वीं एवं 12वीं लोकसभा की सदस्य रही थीं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके निधन पर विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी गंभीर संवेदना व्यक्त की है।

योगी ने कहा, ‘विगत कई दिनों से प्रदेश के प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्थान एसजीपीजीआई में उनका उपचार चल रहा था। वे कोरोना वायरस संक्रमित थीं। आज सुबह उनका दुखद निधन हुआ है।’

उन्होंने कहा कि कमल रानी वरुण लोकप्रिय जन नेता और वरिष्ठ समाजसेवी थीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कमल रानी वरुण ने मंत्रिमंडल में बड़ी कुशलतापूर्वक काम किया। उनका निधन समाज, सरकार और पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति है।