गणेशजी
गणेशजी

मुंबई/भाषा। कोविड-19 महामारी को देखते हुए लाल बाग राजा गणेश मंडल ने इस साल गणेश चतुर्थी उत्सव रद्द करने की घोषणा की है। यह मंडल मुंबई में अपने पंडाल में गणपति की बेहद आकर्षक प्रतिमा तैयार करता है।

लाल बाग राजा सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल के सचिव सुधीर साल्वी ने संवाददाताओं से कहा कि मंडल इस साल गणेश की प्रतिमा नहीं लगाएगा।

उन्होंने कहा कि मंडल इस साल रक्त एवं प्लाज्मा दान शिविर स्थापित करेगा और उन पुलिसकर्मियों के परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगा जिनकी मौत कोविड-19 से हो गई।

‘गणेश चतुर्थी’ इस साल 22 अगस्त को है। यह 10 दिन का महोत्सव होता है। लालबाग राजा मंडल गणपति की प्रतिमा को अपने पंडाल में मध्य मुंबई में 1934 से ही लगाता रहा है।

साल्वी ने कहा, ‘हमने इस साल गणेश की प्रतिमा नहीं लगाने का निर्णय लिया है। यह उत्सव हम रक्त और प्लाज्मा दान शिविर लगाकर मनाएंगे। हम मुख्यमंत्री के राहत कोष में 25 लाख रुपये देने जा रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘हम उन पुलिसकर्मियों के परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान करेंगे जिनकी मौत कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से हो गई। हम लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद हुए 20 जवानों के परिवारों को भी सम्मानित करेंगे।’

महाराष्ट्र में गणेश उत्सव बेहद लोकप्रिय त्योहार है। मुंबई समेत राज्य के विभिन्न इलाकों में बड़े-बड़े पंडाल लगाए जाते हैं जहां 10 दिन तक हजारों श्रद्धालु आते हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पिछले महीने कोविड-19 महामारी को देखते हुए इस साल सादे तरीके से उत्सव मनाने की अपील की थी और गणेश मंडलों से आग्रह किया था कि वह सामाजिक कल्याण कार्यक्रमों को आयोजित करें।