आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी

विशाखापत्तनम/भाषा। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने यहां के नजदीक स्थित एलजी पॉलीमर लिमिटेड में हुए गैस रिसाव की घटना में मरने वाले प्रत्येक व्यक्ति के परिवार को एक-एक करोड़ रुपए की अनुग्रह राशि देने की बृहस्पतिवार को घोषणा की।

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने इस घटना में 11 लोगों की मौत होने की बात कही है। मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की है कि एक समिति इस घटना की जांच करेगी। साथ ही, राज्य सरकार एलजी पॉलीमर प्रबंधन से बात कर मृतक के परिजन को नौकरी देने की मांग करेगी।

रेड्डी ने एक समीक्षा बैठक करने के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए यह भी घोषणा की कि जो भी लोग इलाज के दौरान वेंटिलेटर पर हैं, उन्हें 10 लाख रुपए दिये जाएंगे, जबकि गैस रिसाव के चलते स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करने के बाद बाह्य रोगी विभाग (ओपीडी) में इलाज कराने वालों को 25,000 हजार रुपए दिए जाएंगे।

इससे पहले उन्होंने आंध्र मेडिकल कॉलेज में जिलाधिकारी विनय चंद एवं अन्य के साथ एक समीक्षा बैठक की। मुख्यमंत्री ने कहा कि गैस लीक के चलते विभिन्न अस्पतालों में इलाज करा रहे लोगों को एक-एक लाख रुपए दिए जाएंगे। गैस लीक से प्रभावित हुए पांच गांवों की 15,000 आबादी (में प्रत्येक व्यक्ति) को दस-दस हजार रुपए दिए जाएंगे।

रेड्डी ने भविष्य में इस तरह के हादसों को रोकने से जुड़ी सिफारिशें करने के लिए विशेष मुख्य सचिव (पर्यावरण एवं वन) की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति गठित करने की भी घोषणा की। इससे पहले, वे किंग जॉर्ज अस्पताल गए और गैस लीक में मरने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट की। उन्होंने गैस लीक के बाद इलाज करा रहे पीड़ितों से मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली।

समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री को बताया कि गैस का फैलाव रिसाव के मुख्य केंद्र से 1.5 किमी से दो किमी के क्षेत्र में सीमित कर दिया गया है और वहां से स्थानीय बाशिंदों को सुरक्षित रूप से दूसरी जगहों पर पहुंचा दिया गया।