कोरोना पॉजिटिव.. प्रतीकात्मक चित्र
कोरोना पॉजिटिव.. प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली/भाषा। इंडिगो के बेंगलूरु-मदुरै विमान में सवार एक यात्री के कोविड-19 से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। मदुरै पहुंचने के बाद उसकी कोविड-19 की अनिवार्य जांच की गई, जिसमें उसके संक्रमित होने की पुष्टि हुई। उसमें कोरोना वायरस का कोई भी लक्षण नहीं दिखा था।

संक्रमित व्यक्ति को मदुरै के पृथक-वास केंद्र में ठहराया गया है। कोरोना वायरस से निपटने के लिए देशभर में लगाए गए लॉकडाउन के कारण करीब दो महीने से बंद घरेलू विमान सेवाओं को सोमवार को बहाल किया गया। तब से विभिन्न एयरलाइन में सवार पांच यात्री कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं।

इंडिगो ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा, ‘बिना किसी लक्षण के संक्रमित पाए गए इस व्यक्ति ने 27 मई, 2020 को बेंगलूरु से मदुरै जा रहे इंडिगो के विमान 6ई7214 में यात्रा की थी। मदुरै पहुंचने के बाद वहीं पृथक-वास केंद्र में उसकी कोविड-19 की अनिवार्य जांच की गई और रिपोर्ट में उसके संक्रमित होने की पुष्टि हुई।’

इंडिगो ने बताया कि इस यात्री ने अन्य विमान में सवार अन्य यात्रियों की तरह मास्क, फेस शील्ड और दस्ताने पहनने सहित सभी एहतियाती उपाय किए थे। एयरलाइन ने कहा कि हमारे विमानों को मानक संचालन प्रक्रिया के तहत नियमित रूप से संक्रमण मुक्त किया जाता है।

उसने कहा, ‘चालक दल के सदस्यों को भी 14 दिन तक पृथक-वास में रहने को कहा गया है और सरकार के दिशा-निर्देशों के तहत हम दूसरे यात्रियों को भी इसकी जानकारी दे रहे हैं ताकि हमारी यात्रियों और चालक दल के सदस्यों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।’

वहीं स्पाइसजेट ने बुधवार को कहा था कि दिल्ली होकर अहमदाबाद से गुवाहाटी जाने वाले उसके दो यात्रियों के सोमवार को कोविड-19 से संक्रमण होने की पुष्टि हुई। इससे पहले, मंगलवार को इंडिगो ने कहा था कि 25 मई की शाम को उसकी चेन्नई से कोयंबटूर की उड़ान 6ई381 में सवार एक मुसाफिर कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था।

एअर इंडिया ने बुधवार को बताया कि एलायंस एयर की राष्ट्रीय राजधानी से लुधियाना की उड़ान में सवार एक यात्री कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। इसके बाद चालक दल के पांच सदस्यों समेत कुल 41 लोगों को पृथक-वास में भेज दिया गया है।