मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा
मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा

बेंगलूरु/भाषा। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा ने सोमवार को कहा कि वे भाजपा के स्थापना दिवस के अवसर पर लॉकडाउन के दौरान कष्ट झेल रहे लोगों के प्रति एकजुटता प्रकट करने के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अपील पर अमल करते हुए एक समय के भोजन का त्याग करेंगे।

78 वर्षीय मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कोरोना वायरस से निपटने की कोशिशों को अमलीजामा पहनाने के लिए अग्रिम मोर्चे पर खड़े लोगों के प्रति सम्मान और समर्थन का प्रतीक है।

येडियुरप्पा ने कहा, ‘हम आज भाजपा का 40वां स्थापना दिवस सादा तरीके से मना रहे हैं। इस मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं से कोरोना वायरस के खिलाफ देश के संघर्ष के लिए दिन-रात काम कर रहे चिकित्सकों, नर्सों, पुलिस कर्मियों, सरकारी कर्मचारियों, आशा कर्मियों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए आज एक समय के भोजन का त्याग करने को कहा है।’

उन्होंने एक वीडियो संदेश में कहा, ‘मैं भी एक समय के भोजन का त्याग कर रहा हूं। मैं पार्टी कार्यकर्ताओं से भी ऐसा ही करने की अपील करता हूं।’ उल्लेखनीय है कि नड्डा ने भाजपा के स्थापना दिवस के अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं को दिशा-निर्देश जारी किए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन्हें ट्वीट कर कार्यकर्ताओं से इन निर्देशों का पालन करने की अपील की है।

नड्डा से पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वे जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट मुहैया कराएं, घर में बने मास्क वितरित करें और आपात सेवाओं में कार्यरत कर्मियों के प्रति आभार प्रकट करने के लिए लोगों से हस्ताक्षर कराएं। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए।

भाजपा अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की, ‘सभी भाजपा कार्यकर्ता पार्टी के स्थापना दिवस पर एक समय के भोजन का त्याग कर बंद के दौरान कष्ट झेल रहे लोगों के साथ अपनी सहानुभूति व्यक्त करें और पार्टी के देशव्यापी महाभियान ‘फीड द नीडी’ (जरूरतमंद को भोजन कराएं) के तहत खाद्य सामग्री के पैकेट का वितरण जरूरतमंद लोगों के बीच किया जाए।’