महामारी से मुकाबले के लिए बढ़े मदद के हाथ, जरूरतमंदों को बांटे जाएंगे प्राथमिक कोविड स्वास्थ्य देखभाल किट

बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने की उल्लेखनीय पहल।
बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने की उल्लेखनीय पहल।

सांसेरा फाउंडेशन, कार्ल ज़ॉयस और बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने की यह पहल

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों और अस्पतालों पर भारी दबाव के बीच बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने गरीब और जरूरतमंद लोगों को प्राथमिक कोविड स्वास्थ्य देखभाल किट वितरित करने का फैसला किया है।

एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि इस कार्य के लिए 2,000 किट का योगदान ​दिया जा रहा है, जिसमें ऑक्सीमीटर, थर्मामीटर, हैंड सैनिटाइजर, एन95 मास्क और कोरोना प्रभावित हर रोगी के लिए स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा निर्धारित 10 दिन की दवाइयां हैं। इस प्रोजेक्ट पर लगभग 30 लाख रु. खर्च किए जा रहे हैं।

यह नेक कार्य सांसेरा फाउंडेशन, कार्ल जीश और बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के सहयोग से किया जा रहा है।
यह नेक कार्य सांसेरा फाउंडेशन, कार्ल जीश और बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के सहयोग से किया जा रहा है।

यह नेक कार्य सांसेरा फाउंडेशन, कार्ल ज़ॉयस और बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के सहयोग से किया जा रहा है। यह सामग्री वितरण के लिए बुधवार को बड़े और मध्यम उद्योग मंत्री जगदीश शेट्टर की उपस्थिति में सौंपी गई। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष बी वाई विजयेंद्रा ने भी इस कार्य की सराहना की है।

बोम्मसांद्रा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष ए. प्रसाद ने बताया कि इसकी स्थापना तीन दशक पहले की गई थी। हाल में जब कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी आई तो इसके सदस्यों ने फैसला किया कि समाज में जो लोग वायरस संक्रमण से बचाव के लिए आवश्यक सामग्री खरीदने में दिक्कतों का सामना कर रहे हैं, उनका सहयोग किया जाएगा। उक्त स्वास्थ्य देखभाल किट इस दिशा में एक प्रयास है।

प्राथमिक कोविड स्वास्थ्य देखभाल किट
प्राथमिक कोविड स्वास्थ्य देखभाल किट

संगठन ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर ने समाज के एक बड़े हिस्से को बुरी तरह प्रभावित किया है। हालांकि सरकार अपने स्तर पर काफी कोशिशें कर रही है, लेकिन ये पर्याप्त नहीं हैं। महामारी से मुकाबले के लिए समाज के हर स्तर पर बड़ी भागीदारी की ज़रूरत है। संगठन ने कहा कि वह समाज के सहयोग के लिए आगे बढ़कर हमेशा यथासंभव योगदान देता रहेगा।