पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान

नई दिल्ली/भाषा। पाकिस्तान दक्षेस क्षेत्र में कोरोना वायरस महामारी से सामूहिक रूप निपटने की भारत की पहल को इस संगठन के औपचारिक दायरे में लाने की कोशिश कर संकीर्ण राजनीतिक लक्ष्य हासिल करना चाहता है। सरकारी सूत्रों ने बृहस्पतिवार को यह कहा।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने बुधवार को दक्षेस देशों के व्यापार अधिकारियों की वीडियो कॉन्फ्रेंस का बहिष्कार किया और कहा कि ऐसी बैठकें तभी प्रभावी हो सकती हैं, जब इनका नेतृत्व भारत के बजाय संगठन (दक्षेस) का सचिवालय कर रहा हो।

यह बैठक क्षेत्र में महामारी के प्रभाव पर चर्चा करने और इस बात पर विचार विमर्श के लिए थी कि किस प्रकार यह संगठन इस संकट से निपटने के लिए एक साझा रणनीति तैयार कर सकता है।

एक सूत्र ने बृहस्पतिवार को कहा, ‘जब क्षेत्र कोरोना वायरस संकट का सामना कर रहा है, ऐसे में (पाकिस्तान की) यह कोशिश संकीर्ण राजनीतिक लक्ष्य हासिल करने के लिए है।’

दक्षेस देशों के व्यापार अधिकारी कोरोना वायरस महामारी के भारी आर्थिक नुकसान से निपटने के लिये अंतरा-क्षेत्रीय व्यापार को सतत एवं विस्तारित करने के नए तरीकों की पहचान करने पर व्यापक रूप से सहमत हुए।

अधिकारियों ने व्यापार संवर्द्धन का व्यापक ढांचा बनाने पर भी चर्चा की। उन्होंने अंतरा-दक्षेस व्यापार की मात्रा बढ़ाने की जरूरत का भी जिक्र किया। यह चर्चा भारत द्वारा 15 मार्च को दक्षेस नेताओं की एक वीडियो कॉन्फ्रेंस की पहल करने के बाद का ‘फॉलो अप’ है।