भारतीय मुद्रा
भारतीय मुद्रा

नई दिल्ली/भाषा। भारत 2026 में जर्मनी को पछाड़कर विश्व की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था और वर्ष 2034 में जापान को पीछे छोड़कर विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है। एक रिपोर्ट में यह कहा गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, भारत 2026 तक पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बन सकता है। हालांकि, सरकार ने देश को 2024 तक पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य तय किया है।

ब्रिटेन स्थित सेंटर फोर इकोनॉमिक्स एंड बिजनेस रिसर्च (सीईबीआर) की रिपोर्ट ‘वर्ल्ड इकोनॉमिक लीग टेबल 2020’ के अनुसार, भारत 2019 में ब्रिटेन और फ्रांस दोनों को निर्णायक तौर पर पछाड़कर दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया। अब भारत के 2026 में जर्मनी को पीछे छोड़कर चौथी तथा 2034 में जापान को पछाड़कर तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाने का अनुमान है।

सीईबीआर ने कहा कि जापान, जर्मनी और भारत में अगले 15 साल तक तीसरे स्थान के लिए प्रतिस्पर्धा चलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के भारतीय अर्थव्यवस्था को 2024 तक 5,000 अरब डालर की अर्थव्यवस्था बनाने के सवाल पर रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘भारत पांच हजार अरब डॉलर की जीडीपी 2026 में हासिल कर लेगा- सरकार के तय लक्ष्य के मुकाबले दो साल बाद।