प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र

भुवनेश्वर/भाषा। ओडिशा में कंधमाल जिले के एक घने जंगल में रविवार को सुरक्षाबलों के साथ हुई मुठभेड़ में कम से कम चार माओवादी मारे गए। पुलिस महानिदेशक अभय ने बताया कि मुठभेड़ में कुछ माओवादी घायल भी हुए हैं।

उन्होंने बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर विशेष अभियान समूह (एसओजी) के अधिकारियों और जिला स्वयंसेवी बल (डीवीएफ) के अधिकारियों के बल ने तड़के कंधमाल जिले के तुमुदिबंध इलाके में एक जंगल में छापेमारी की थी।

सुरक्षाबल जैसे ही माओवादियों के ठिकाने के पास पहुंचे, माओवादियों ने गोलियां चलाना शुरू कर दिया जिसके चलते मुठभेड़ शुरू हो गई। इस दौरान चार माओवादी मारे गए। महानिदेशक ने बताया कि इलाके से हथियारों और गोला-बारूद का बड़ा जखीरा बरामद हुआ है।

उन्होंने बताया कि चारों के प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) के बंसाधारा-नागावेली-घुमुसार संभाग के सदस्य होने का संदेह है। पुलिस महानिदेशक ने यह भी बताया कि इलाके में गहन तलाश अभियान चल रहा है।

अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे कंधमाल के पुलिस अधीक्षक प्रतीक सिंह ने बताया गया कि मारे गए माओवादियों में एक महिला माओवादी भी शामिल है। मुख्य सचिव एके त्रिपाठी ने सुरक्षाबलों को बधाई दी और कहा कि इस अभियान ने उग्रवादियों से लड़ने के ओडिशा के संकल्प को और मजबूत किया है।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘कंधमाल में सफल अभियान पर ओडिशा पुलिस के अधिकारियों और जवानों को बधाई। उनके साहस की सराहना करते हैं। चार माओवादियों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। इससे, उग्रवाद से राज्य को मुक्त करने तथा राज्य के संपूर्ण विकास को गति देने के हमारे संकल्प को मजबूती मिली है।’