नई दिल्ली/भाषा। भारतीय डाक ने ‘डाक जीवन बीमा’ और ‘ग्रामीण डाक जीवन बीमा’ के प्रीमियम जमा करने की अंतिम तारीख बढ़ाकर 30 जून कर दी। ऐसा कोरोना वायरस के सामुदायिक फैलाव को रोकने के लिए किए गए देशव्यापी लॉकडाउन (सार्वजनिक पाबंदी) के चलते किया गया है। डाक विभाग ने एक बयान में कहा कि सार्वजनिक पाबंदी की वजह से लोगों के आवाजाही पर रोक लगी है। इसलिए यह निर्णय किया गया है। इससे लोगों को बिना किसी देरी के शुल्क के अपना प्रीमियम जमा करने की सहूलियत मिलेगी।

डाक विभाग ने कहा, ‘डाक जीवन बीमा, ग्रामीण डाक जीवन बीमा के सभी ग्राहकों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए डाक जीवन बीमा निदेशालय ने उन लोगों के प्रीमियम जमा करने की आखिरी तारीख बढ़ाने का निर्णय किया है जिनकी प्रीमियम जमा करने तारीख मार्च से मई के बीच में है। अब ये लोग 30 जून, 2020 तक अपना प्रीमियम बिना किसी शुल्क के जमा करा सकेंगे।’ आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार मार्च में डाक जीवन बीमा के 64.62 लाख और ढाई करोड़ सक्रिय उपभोक्ता थे।

डाक जीवन बीमा की सुविधा सरकारी और अर्द्ध सरकारी कर्मचारियों को उपलब्ध है। इसे अक्टूबर 2017 में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज और बीएसई पर सूचीबद्ध कंपनियों के कर्मचारियों और पेशेवरों को भी उपलब्ध कराया गया है, जबकि ग्रामीण डाक जीवन बीमा का मकसद ग्रामीण इलाकों में रहने वाले आम लोगों, कमजोर वर्गों और महिला कामगारों को बीमा सुरक्षा उपलब्ध कराना है।