​किसी की सांसें नहीं रोके कोरोना का वार, ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए रेलवे तैयार

भारतीय रेलवे। फोटो स्रोत: PixaBay
भारतीय रेलवे। फोटो स्रोत: PixaBay

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। रेलवे ने तरल मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) और ऑक्सीजन सिलेंडर की ढुलाई के लिए बड़े स्तर पर तैयारी की है। इस बारे में रेल मंत्रालय ने बताया कि रेलवे सभी मुख्य कॉरिडोर पर एलएमओ और ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचाने के लिए पूरी तरह तैयार है।

उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमितों के इलाज में ऑक्सीजन महत्वपूर्ण है। इसको लेकर मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र सरकार ने रेलवे द्वारा एलएमओ टैंकर ले जाने की संभावनाएं तलाशने के लिए मंत्रालय से संपर्क किया था।

इसके बाद रेलवे ने तत्काल तकनीकी स्तर पर ढुलाई की संभावना का पता लगाया। मंत्रालय ने बताया कि एलएमओ फ्लैट वैगनों पर रोड टैंकरों के साथ रोल ऑन रोल ऑफ (रो रो) सेवा के माध्यम से पहुंचाए जाएंगे।

रेलव के अनुसार, तेज गति से ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर तैयार किया जा रहा है। इस सिलसिले में तकनीक परीक्षणों के पूरा होने के बाद, कलंबोली/बोईसर, मुंबई के और आसपास के स्टेशनों से खाली टैंकर भेजे जाएंगे। तरल मेडिकल ऑक्सीजन टैंकरों के लदान के लिए उन्हें विजाग और जमशेदपुर, राउरकेला, बोकारो भेजा जाएगा।

रेलवे ने बताया कि रविवार को बोईसर में एक परीक्षण किया गया था, जिसके तहत भरे हुए टैंकर को फ्लैट डीबीकेएम पर रखा गया और सभी जरूरी माप की गईं। विभिन्न स्थानों पर टैंकरों की रवानगी की संभावनाओं के मद्देनजर कलंबोली और अन्य स्थानों पर डीबीकेएम वैगन पहुंचा दिए गए हैं।