कोलकाता/भाषा। भारतीय मौसम विभाग ने बृहस्पतिवार को कहा कि चक्रवात अम्फान बांग्लादेश की ओर बढ़ गया है। इसने पश्चिम बंगाल में तबाही मचाई है जिसमें कम से कम 12 लोगों की मौत हुई है और झुग्गियां उड़ गईं, हजारों पेड़ गिर गए तथा निचले इलाकों में पानी भर गया।

विभाग ने कहा कि अगले दो से छह घंटे में चक्रवात गहरे दवाब के क्षेत्र और फिर दबाव के क्षेत्र में बदल जाएगा। यह दो चरण चक्रवात के और कमजोर होने का संकेत देते हैं। विभाग ने बताया कि तूफान के प्रभाव के कारण मेघालय और पश्चिमी असम में अगले 12 घंटे के दौरान 30-40 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है।

उसने बताया कि असम के पश्चिम जिलों और मेघालय के अधिकतर स्थानों पर हल्की से मध्यम स्तर की बारिश हो सकती है। कुछ स्थानों पर भारी बारिश का भी अनुमान है। विभाग के अधिकारी के मुताबिक, पिछले 100 साल में पश्चिम बंगाल में आने वाला अम्फान सबसे भीषण चक्रवाती तूफान है।

इस चक्रवात के दौरान 190 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं जिसने बुधवार को ओडिशा के तट से लेकर पश्चिम बंगाल तक तबाही मचाई और भारी बारिश हुई, जिससे घर और खेत पानी में डूब गए।