Swarn Mandir
Swarn Mandir

अमृतसर/भाषा। पद्म श्री से सम्मानित स्वर्ण मंदिर के पूर्व ‘हजूरी रागी’ की बृहस्पतिवार सुबह यहां कोरोना वायरस से मौत हो गई।

एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि ‘गुरबाणी’ की सभी रागों का ज्ञान रखने वाले 62 वर्षीय पूर्व ‘हजूरी रागी’ हाल ही में विदेश से लौटे थे और बुधवार को वे कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे।

सरकारी मेडिकल कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ. सुजाता शर्मा ने बताया कि उनकी हालत बुधवार शाम को बिगड़नी शुरू हो गई थी और उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। बृहस्पतिवार तड़के साढ़े चार बजे उनका निधन हो गया।

शर्मा ने बताया कि उन्हें 30 मार्च को सांस लेने में दिक्कत और चक्कर आने की शिकायत के बाद यहां गुरु नानक देव अस्पताल में भर्ती कराया गया था।