शिशु.. प्रतीकात्मक चित्र
शिशु.. प्रतीकात्मक चित्र

भोपाल/भाषा। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अपने जन्म के महज कुछ दिनों के बाद ही कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आई नवजात बच्ची उपचार के बाद संक्रमण मुक्त हो गई है और स्वस्थ होने के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि जन्म के मात्र नौ दिन बाद इस बालिका की कोरोना जांच के नमूने लिए गए थे। तीन दिन बाद जांच रिपोर्ट आने पर इस बच्ची के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। सात अप्रैल को जन्मी इस नवजात बालिका को उपचार के बाद शुक्रवार रात को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

बच्ची के पिता के अनुसार, भोपाल के सरकारी सुल्तानिया जनाना अस्पताल में सात अप्रैल को जन्मी इस बच्ची में संभवत: अस्पताल की महिला स्वास्थ्यकर्मी से कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ। यह स्वास्थ्यकर्मी बच्ची के जन्म के समय ड्यूटी पर थी और बाद में यह महिला कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई थी।

बालिका के पिता ने शनिवार को बताया कि मेरी बच्ची ठीक होकर कल रात को वापस घर आ गयी है। हमने उसका नाम प्रकृति रखा है क्योंकि उसने एक महामारी के खिलाफ लड़ाई जीती है।

उन्होंने बताया कि बच्ची के जन्म के बाद मां और उसे सुल्तानिया अस्पताल से 11 अप्रैल को छुट्टी दे दी गई थी लेकिन बच्ची के जन्म के वक्त मौजूद रही स्वास्थ्यकर्मी की कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबर के बाद हमने अधिकारियों से संपर्क किया। 19 अप्रैल को नवजात बच्ची की जांच में वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई जबकि परिवार के अन्य सदस्यों में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई।