तुर्की मुद्रा लीरा
तुर्की मुद्रा लीरा

अंकारा/दक्षिण भारत। अक्सर पाकिस्तान के सुर में सुर मिलाने वाले तुर्की की मुद्रा रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गई है। इससे लोगों के सामने महंगाई का बहुत बड़ा संकट पैदा हो गया है। इसकी गाज वहां के केंद्रीय बैंक प्रमुख पर गिरी है।

स्थानीय मीडिया रिपोर्टों की मानें तो तुर्की मुद्रा ‘लीरा’ में रिकॉर्ड गिरावट और महंगाई दर के आसमान छूने से बड़बोले राष्ट्रपति तैय्यप एर्दोआन खासे खफा हैं और इस वजह से उन्होंने शनिवार को केंद्रीय बैंक के प्रमुख को हटा दिया है।

यहां जारी आधिकारिक गजट में इस संबंध में जानकारी दी गई है। राष्ट्रपति के फैसले के अनुसार, केंद्रीय बैंक के प्रमुख मूरत उयसाल हटा दिए गए हैं। अब नासी अग्बल को यह जिम्मेदारी दी गई है जो पूर्व में वित्त मंत्री भी रह चुके हैं।

बता दें कि लीरा इस साल के शुरू से अब तक एक तिहाई गिर चुकी है। इससे तुर्की में महंगाई बहुत बढ़ गई है। लोगों में राष्ट्रपति एर्दोआन के प्रति आक्रोश बढ़ता जा रहा है।

यहां वार्षिक मुद्रास्फीति 11.89 प्रतिशत पर आ गई है तो शुक्रवार को ही लीरा डॉलर के मुकाबले 8.58 पर आ गई। इसमें शनिवार को कुछ सुधार हुआ और यह 8.53 पर आ गई, लेकिन निकट भविष्य में कोई राहत नजर नहीं आ रही है।